कोरोना को लेकर डॉ. कौलेश्वर प्रियदर्शी ने की अपील, कहा- सीएम के निर्देशों का पालन करें

आंबेडकर

प्यारें विद्यार्थियों एवं सम्मानित अभिभावकगण निवेदन पूर्वक आपके सांसारिक जीवन में शुभकामनाओं के साथ अपील निवेदित है।

आप सभी से वैश्विक महामारी कोरोना से निपटने, आप, आपके परिवार, समाज एवं राष्ट्र और संसार को कोरोना महामारी से निजात दिलाने के लिए केंद्र/राज्य सरकार के द्वारा लाक डाउन के घोषित उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिए विशेष आग्रह है कि आप सभी सम्मानित जनों से आशा, उम्मीद है कि इस पर ध्यान देंगे। यह मात्र परिवार एवं समाज को स्वस्थ्य होने / रखने का प्रयास नहीं है अपितु देश ही नहीं सम्पूर्ण विश्व में इस वैश्विक महामारी से निजात दिलाकर वसुधैव कुटुंबकम् की अवधारणा को सफलता प्राप्त कराने का प्रयास है। भारतीय मनीषियों का मत है समाज विरोधी मानव समाज के सम्मुख आने वाली चुनौती को अवसर में बदलकर सामाजिक,व्याधिकीय, दैहिक और मानवीय समस्याओं पर सुगमता से सफलता प्राप्त किया जा सकता है। इसलिए घर, मुहल्ला, महाविद्यालय के परिसर इत्यादि को कैरोना महामारी से निजात दिलाने के लिए निम्न सुझावों पर अमल करके हम महामारी से मानव समाज को सुरक्षित कर सकते है।

संक्रमण से बचाव हेतु सुझाव इस प्रकार है-

1- लॉकडाऊन के सुझाव पर अमल करते हुए आप एवं आपके परिवार के सदस्यों को घर से बाहर न निकलने दे।

2- सोशल डिस्टेंस के मद्देनजर किसी समूह में एक साथ बैठकर किसी कार्य को सम्पादित करने से परहेज करें।

3- एक तौलिया का इस्तेमाल सभी लोग न करें।

4- दिन में कम से कम 4-5 बार सेनेटाइजर / हैण्डवाश / साबुन के माध्यम से हाथ, पैर एवं चेहरे को धोये।

5- यदि किसी सर्दी, खाशी, आदि की शिकायत है तो उससे दूरी बनाकर चिकित्सक से परामर्श करें। इस संकटपूर्ण स्थिति में अपने मुंह को ढक लें।

6- यदि कोई परिवार का सदस्य घर से बाहर जाता है तो उसे रोकें।

7- यदि कोई व्यक्ति विदेश यात्रा कहीं बाहर से आता है, तो उसकी सूचना दूर संचार के माध्यम से प्रशासन को दें।

8- आप स्वम सुनिश्चित करें कि आपके आसपास में कोई रोटी के अभाव में भोजन से वंचित न रह जाए। यथा सम्भव अपने भोजन से पूर्व यह सुनिश्चित कर लें कि आपके पास पड़ोस में कोई भूखा ना रह जाए।

9- प्रिय बच्चों घर में बैठकर माता-पिता, एवं बड़ों – छोटों के साथ कुशलतापूर्वक से घरेलू कार्यों को पुरा करते हुए अपने अध्ययन पर ध्यान दें।

10- स्वअध्ययन के साथ ही साथ संबंधित विषय के प्राध्यापक से मोबाइल व अन्य इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से ई-कन्टेंट के द्वारा अध्ययन कर अपने समय का सदुपयोग करें।

11- गर्म पानी से पीये एवं स्नान करें। कोरोना वाईरस (covid-19) से बचाव में सिर्फ सामाजिक दूरी ही अमोघ अस्त्र है अर्थात सर्वोत्तम औषधि है।

देश के यशस्वी प्रधानमंत्री मा.श्री नरेन्द्र मोदी जी व उत्तर प्रदेश के सर्वांगीण विकास व मानवहित को समर्पित मा. मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के सरकारी निर्देश/आदेश का अनुपालन कर मानव जीवन को बचायें, खुद सुरक्षित रहे, घर, परिवार को सुरक्षित रखें और विश्व के मानव लोक के कल्याण में सुरक्षा प्रदान कर अपने कर्त्तव्यों का राष्ट्र व विश्व संरक्षण में महती योगदान हेतु कृत संकल्पित होकर कृतार्थ करें।

डॉ.कौलेश्वर प्रियदर्शी, एसोसिएट प्रोफेसर एवं अध्यक्ष समाजशास्त्र विभाग राजकीय महाविद्यालय पथरदेवा देवरिया द्वारा जनहित में जारी।

Check Also

विधानसभा सत्र में मंत्रियों को संक्रमित करने पहले मंत्री जी हो गए कोरोना +ve

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा का सत्र आज से शुरू हो गया है। यह सत्र तीन ...