कारवाला मेरी बहन को खींचकर ले गया और कर डाला ये गलत काम ! प्लीज FIR कर लीजिए…

आगरा. उत्तर प्रदेश सरकार कानून व्यवस्था को लेकर लगातार निशाने पर आती जा रही है, लेकिन सरकार के अधिकारी कुम्भकर्ण की नींद सो रहे हैं। ताजा मामला आगरा के सरोजिनी नायडू मेडिकल कॉलेज का है। यहां से एमबीबीएस पास कर चुकी युवा महिला डॉक्टर योगिता गौतम की बेरहमी से हत्या कर दी गई।

बताया जा रहा है कि आगरा से दूर खाली प्लॉट में बुधवार को एक लड़की की लाश मिलने से हड़कंप मच गया था। शाम तक लाश की शिनाख्त हुई, तो वो डॉक्टर योगिता गौतम की निकली। आगरा के सरोजिनी नायडू मेडिकल कॉलेज से पास आउट डॉक्टर का फोन मंगलवार से ही नहीं लग रहा था।

योगिता के घरवालों ने घर वालों ने गुमशुदगी की रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी। घर वालों का आरोप है कि उरई जालौन मेडिकल कॉलेज का मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर विवेक तिवारी उनकी बेटी को लगातार परेशान कर रहा था और जान से मारने की धमकी दे रहा था। जानकारी के मुताबिक घर वालों की शिकायत पर पुलिस ने तफ्तीश शुरू कर दी है। जहां पर योगिता की लाश मिली है उसके आसपास के सीसीटीवी की फुटेज को खंगाला जा रहा है।

डॉ. योगिता गौतम की मां आशा गौतम और भाई डॉ. मोहिंदर कुमार गौतम के आंसू रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। बिलखते हुए डॉ. मोहिंदर बोले, जैसा हमारे साथ हुआ किसी और के साथ नहीं हो।

बुधवार सुबह साढ़े नौ बजे एमएम गेट थाने पहुंच गए थे। शाम छह बजे तक थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया। शव की पहचान के बाद पुलिस घबरा गई। आनन-फानन में उनकी तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया।

डॉ. मोहिंदर ने बताया कि वह मां के साथ मंगलवार रात साढ़े नौ बजे आगरा आ गए थे। बुधवार सुबह साढ़े नौ बजे थाने पहुंचे। पुलिस को बताया कि बहन का अपहरण हो गया है। सीसीटीवी फुटेज में कोई कार वाला बहन को खींचकर ले गया है। पुलिस ने उनकी बात नहीं सुनी। इंतजार करने को कहा। वह एसएन मेडिकल कॉलेज पहुंचे। वहां विभागाध्यक्ष से मिले। बताया कि डॉ. योगिता लापता हैं।

विभागाध्यक्ष ने कहा कि पुलिस के पास जाएं। वह कुछ नहीं कर सकतीं। उनकी बहन की पिछले दिनों सभी ने तारीफ की थी। बहन उस टीम में शामिल थी जिसने कोविड महिला मरीज की डिलीवरी कराई थी। उस समय बहन की खुशी का ठिकाना नहीं था। वह फिर एमएम गेट थाने पहुंच गए। हाथ जोड़कर वहां बैठे रहे। शाम साढ़े पांच बजे उन्हें किसी सिपाही ने बताया कि एक अज्ञात युवती का शव मिला है। पोस्टमार्टम हाउस पर है। उसे भी जाकर देख लो। वह शव देखने पहुंचे। शव उनकी बहन का था। तब घबराई पुलिस दौड़भाग करने लगी।

 

Check Also

विधानसभा सत्र में मंत्रियों को संक्रमित करने पहले मंत्री जी हो गए कोरोना +ve

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा का सत्र आज से शुरू हो गया है। यह सत्र तीन ...