अवैध शराब के कारोबारियों ने सिपाही सुनील यादव को मारडाला

सुल्तानपुर/लखनऊ. दोस्तपुर थानाक्षेत्र के अलहदादपुर गांव में सिपाही सुनील यादव की शराब माफियाओं ने गोली मारकर हत्या कर दी। सुनील यादव आबकारी विभाग में सिपाही के पद पर तैनात थे। वह इलाके में अवैध शराब के कारोबारियों के निशाने पर थे। हत्या करने वालों के नाम लवकुश मिश्रा, जितेद्र मिश्रा और चंचल मिश्रा बताया जा रहा है।

फर्क इंडिया संवाददाता के मुताबिक, सुनील यादव पुत्र अमर बहादुर यादव बाराबंकी जनपद में आबकारी विभाग में सिपाही के पद पर कार्यरत थे। सुनील की उस समय गोली मार कर हत्या कर दी गई जब वह घर से 300 मीटर दूर अपने खेत से जानवरों के लिए चारा काट कर आ रहे थे।

बताया जा रहा है कि पहले से घात लगाए बैठे गांव के ही बदमाश लवकुश मिश्रा ने अन्य दो साथियों जितेंद्र मिश्रा व चंचल मिश्रा ने गोली मारकर हत्या कर दी। मृतक के भाई की तहरीर पर उक्त लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी धारा 302 25/3 आर्म्स एक्ट में दर्ज की गई है।

पीड़ित परिजनों के अनुसार लवकुश मिश्रा दहशत फैलाने के लिए लगातार उसी बाग फायरिंग करता था। लवकुश मिश्रा अवैध शराब का धंधा करता था। और घर में ही हजारों शीशी शराब छुपकर रखा था। पीड़ित परिजनों की शिकायत पर थानाध्यक्ष दोस्तपुर मय फोर्स के इसे बरामद भी किया है। मामला लाखों रुपए अवैध शराब के कारोबार से जुड़ा है।

हिन्दुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन आर्मी प्रमुख एड. कुलदीप यादव जनवादी ने मामले को गंभीर बताते हुए पुलिस को तत्काल आरोपियों की गिरफ्तारी और निष्पक्ष जांच करने की मांग की है। कुलदीप ने कहा है कि यदि हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी और सही तरीके से जांच नहीं होगी तो आंदोलन किया जाएगा। 

Check Also

हाईकोर्टः प्राथमिक शिक्षकों के अंतर्जनपदीय तबादलों की बड़ी खबर, लेकिन कुछ नियम हैं अहम

इलाहाबाद. हाईकोर्ट के एक फैसले से यूपी सरकार को भी बड़ी राहत मिली है। अब ...