Tuesday , August 9 2022

बाढ़ से बेहाल गुजरात में अगले 3-4 दिनों तक भारी बारिश का पूर्वानुमान

नई दिल्ली. गुजरात में भारी बारिश का दौर जारी है. भारतीय मौसम विभाग ने सोमवार को जानकारी दी है कि राज्य में अगले 3-4 दिनों तक भारी से अति भारी बारिश होने की संभावना है. राज्य में अब तक बारिश से जुड़ी घटनाओं के चलते तीन लोगों की मौत हो गई है. राहत कार्य के लिए NDRF और SDRF की टीमों की तैनाती की गई है. साथ ही अनुमान लगाया जा रहा है कि हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में 16 सितंबर से भारी बारिश का दौर शुरू हो सकता है. सोमवार को दिल्ली में भी बारिश दर्ज की गई.

मौसम विभाग की तरफ से सोमवार की जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि अगले 3-4 दिनों में कोंकण, मध्य महाराष्ट्र, गुजरात, पूर्वी राजस्थान, मध्य प्रदेश में भारी से अति भारी बारिश हो सकती है. गुजरात और पश्चिम मध्य प्रदेश में 15 सितंबर को अत्याधिक भारी वर्षा हो सकती है. अगले 5 दिनों तक प्रायद्विपीय भारत में अगले 5 दिनों तक छिटपुट वर्षा हो सकती है. वहीं, अगले दो दिनों में तटीय और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, तमिलनाडु, पुडुचेरी और करईकल और केरल में भारी बारिश हो सकती है.

गुजरात में हालात बिगड़ते नजर आ रहे हैं. मौसम विभाग द्वारा अगले 3 दिन राज्य के कई हिस्सों में भारी बारिश की चेतावनी के बाद एनडीआरफ की 20 टीमें तैनात की गई है जिस में दो दो टीमें जामनगर और राजकोट में हैं और 5 टीमें भटिंडा से गुजरात पहुंच रही हैं. कोस्टगार्ड की 5 टीमो को राहत बचाव के लिए जामनगर भेजा गया है.

गुजरात के सौराष्ट्र क्षेत्र में सोमवार को भारी बारिश के चलते हुई घटनाओं में तीन लोगों की मौत हो गई. राजकोट और जामनगर में नदियां उफान पर आ गईं और निचले इलाकों में लोगों को जलभराव की समस्या का सामना करना पड़ा. इसके चलते विभागों को चेतावनी जारी करनी पड़ी और बचाव एवं राहत कार्यों के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमों को तैनात किया गया. जिला प्रशासन के मुताबिक, जामनगर और राजकोट में लोगों को निकालने के लिए वायुसेना के हेलिकॉप्टरों को की मदद ली गई.

राज्य आपातकालीन अभियान केंद्र (एसईओसी) के अधिकारियों ने बताया कि राजकोट के लोधिका तालुका में सोमवार को सुबह छह बजे से 10 घंटे की अवधि में 435 मिलीमीटर बारिश हुई जबकि जूनागढ़ की विसावदर तालुका में 364 मिलीमीटर, जामनगर के कलावाड़ में 348 मिलीमीटर, राजकोट तालुका में 305 मिलीमीटर और राजकोट के धोराजी में 202 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई.

अधिकारियों ने बताया कि राजकोट के कलावाड़ और जामनगर जिले के जाम जोधपुर में कार बह जाने की अलग-अलग घटनाओं में क्रमश: एक महिला और दो पुरुषों की मौत हो गई. उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) और राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) की कई टीम को राजकोट, जूनागढ़ और जामनगर भेजा गया है.

गहरा दबाव क्षेत्र ओडिशा तट के पार, मध्य और पश्चिम भारत में भारी बारिश का अनुमान
आईएमडी ने सोमवार को कहा कि बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना दबाव का क्षेत्र गहरे दबाव में परिवर्तित होकर सोमवार सुबह ओडिशा के तट को पार कर गया, जिसके बाद राज्य में भारी बारिश हुई. आईएमडी ने बताया कि इस प्रभाव की वजह से पश्चिमी और मध्य भारत में भारी बारिश की आशंका है. विभाग ने कहा कि ओडिशा और छत्तीसगढ़ में 13 सितंबर को और मध्य प्रदेश में 14 सितंबर को बेहद भारी बारिश का पूर्वानुमान है. विभाग ने बताया कि उत्तरी कोंकण और मध्य महाराष्ट्र में भी अगले दो दिनों में भारी बारिश की आशंका है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

19 − fourteen =

E-Magazine