Friday , August 12 2022

जर्मनी और रूस ने अफगानिस्तान के हालात पर जताई चिंता

मॉस्को: जर्मनी और रूस ने अफगानिस्तान के हालात पर चिंता जताई है. दोनों देशों ने इस मुद्दे पर साथ काम करने का फैसला किया है.
जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने शुक्रवार को रूस के क्रेमलिन शहर में रूसी राष्ट्रपति व्लादीमीर पुतिन से मुलाकात की. दोनों नेताओं ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वे अफगानिस्तान और लीबिया के हालात से चिंतित हैं और स्थिति पर सतत निगरानी बनाए हुए हैं.
एंजेला मर्केल ने कहा कि दोनों देशों ने रूस-जर्मनी को जोड़ने वाली पाइपलाइन पर चर्चा की है. यह पाइपलाइन रूस से होकर जर्मनी तक जाएगी. इसके साथ ही यूक्रेन में अलगाववादी संघर्ष और जेल में बंद रूसी विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी के मुद्दे पर भी चर्चा की गई. व्लादीमीर पुतिन ने कहा कि वैश्विक मामलों को लेकर दोनों देश लगातार संपर्क में रहते हैं. रिपोर्ट के मुताबिक जब पुतिन मीडिया को संबोधित कर रहे थे. तब एंगेला मर्केल अपने फोन पर बात करती देखी गईं.

बताते चलें कि 26 सितंबर को जर्मनी में चांसलर पद के चुनाव हैं. इस चुनाव के साथ ही एंजेला मर्केल का 16 वर्षों का कार्यकाल खत्म हो जाएगा. वहीं व्लादीमीर पुतिन पिछले 20 सालों से रूस की सत्ता पर बने हुए हैं. रूस में वर्ष 2024 में राष्ट्रपति पद के चुनाव प्रस्तावित हैं. पुतिन ने अभी तक घोषणा नहीं की है कि वे यह चुनाव लड़ेंगे या नहीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eighteen − 15 =

E-Magazine