Thursday , September 29 2022

राम मंदिर रास्ते को कल्याण मार्ग की घोषणा से भड़के ओवैसी

लखनऊ. एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने एक बार फिर योगी सरकार पर करारा हमला किया है. पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के निधन के बाद अयोध्या में राम मंदिर की तरफ जाने वाली सड़क का नाम कल्याण मार्ग करने की घोषणा पर ओवैसी ने यूपी सरकार को आड़े हाथ लिया. उन्होंने कहा कि क्या-क्या नाम बदल दिए, कभी इलाहाबाद का नाम प्रयागराज किया कभी किसी और जगह का नाम बदल दिया. कभी स्टेशनों के नाम बदले. उन्होंने कहा कि क्या नाम बदलना जरूरी है या काम करना. ओवैसी ने कहा कि नाम से ज्यादा काम करिए.
एआईएमआईएम प्रमुख ने बताया कि उत्तर प्रदेश के 37 लाख नौजवान बेरोजगार हैं. उनके नाम भी अनएंप्लॉयमेंट पोर्टल पर दर्ज हैं लेकिन उनको आज तक रोजगार नहीं मिला है.

जरूरी है जातिगत जनगणना
ओवैसी ने जातिगत जनगणना के मुद्दे पर कहा कि ये जरूरत है और जरूरी है कि जो हर तरह से पिछड़े हैं उनका विकास हो. और इसमें गलत क्या है. उन्होंने कहा कि हर राजनीतिक पार्टी ये कह रही है कि जातिगत जनगणना होनी चाहिए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास संसदीय शक्तियां हैं उन्हें कानून बना ना चाहिए. इसके साथ ही ओवैसी ने ओबीसी के उप-वर्गीकरण को भी महत्वपूर्ण करार देते हुए उसकी जरूरत बताई.

गौरतलब है कि इससे पहले डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने प्रदेश के 5 जिलों की एक-एक सड़क को कल्याण सिंह के नाम पर करने की घोषणा की थी. अब लखनऊ, अयोध्या, प्रयागराज, बुलंदशहर और अलीगढ़ में एक-एक सड़क कल्याण सिंह के नाम पर होगी. लोक निर्माण विभाग इस संबंध में जल्द ही सभी कागजी कार्रवाई पूरी कर लेगा. इसके साथ ही राम मंदिर आंदोलन में कल्याण सिंह के योगदान को देखते हुए अयोध्या में राम जन्मभूमि परिसर जाने वाली सड़क का नाम कल्याण सिंह मार्ग होगा. सरकार जल्द ही इस संबंध में कैबिनेट प्रस्ताव पारित करवाकर सड़कों का नाम कल्याण सिंह मार्ग कर देगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

1 × 1 =