Sunday , December 31 2023

राजधानी लखनऊ में पुलिस से दबंगई का मामला आया सामने

लखनऊ के चौक चौराहे पर चेकिंग के दौरान स्कूटी सवार चार युवकों ने सिपाही के साथ अभद्रता कर मारपीट की। हाथापाई के दौरान वर्दी फाड़ दी और नेम प्लेट भी नोच ली। आरोपितों ने लाइन हाजिर कराने की धमकी देते हुए अर्दब में लेकर जमकर हंगामा काटा। पुलिस ने चारों के खिलाफ शांति भंग में कार्रवाई की है।

शनिवार देर शाम सिपाही अभिषेक चौक चौराहे के पास चेकिंग कर रहे थे। तभी चरक चौराहे की ओर चौक ओर तेज रफ्तार एक स्कूटी पर सवार चार युवक आते दिखाई दिए। जिन्हें पुलिसकर्मी ने इशारा कर रोकने का प्रयास किया। पर पुलिस को देखते ही स्कूटी स्वार रफ्तार बढ़ाकर भागने लगे। जिन्हें सिपाही अभिषेक ने दौड़ाकर रोक लिया। रोकते ही चारों युवक आग बबूला हो गए और अभद्रता करने लगे। विरोध करने पर चारों सिपाही से भिड़ गए। अपनी ऊंची पहुंच का हवाला देते हुए चारों लाइन हाजिर कराने की धमकी देने लगे। हाथापाई के दौरान सिपाही की वर्दी फाड़ दी और नेम प्लेट नोच ली। हंगामे की सूचना पर कुछ ही देर में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी पहुंच गए।

सहायक पुलिस चौक आईपी सिंह के मुताबिक चारों आरोपितों की पहचान चौक के यहियागंज निवासी तुषार मिश्रा, ठाकुरगंज के प्रेम विहार कॉलोनी निवासी अनुराग, चौक के सरायमाली खां निवासी गोपाल मिश्रा व सआदतगंज के कश्मीरी मोहल्ला निवासी आदिल के रूप में हुई। चारों आरापेतों का शांति भंग में चालान कर कार्रवाई की गई है।

नीली बत्ती लगा फर्राटा भरते अकाउंटेंट दबोचा

शनिवार रात करीब दस बजे मुंगफली मण्डी के पास चेकिंग के दौरान ही स्लेटी रंग की कार दिखाई पड़ी। जिस पर नीली बत्ती लगी थी। बोनट पर अशोक स्तम्भ का स्टीकर लगा था। नम्बर प्लेट पर भारत सरकार भी लिखा था। सिपाहियों के पूछताछ करने पर ड्राइवर दबाव बनाने लगा। इंस्पेक्टर के मुताबिक कार सआदतगंज निवासी सरफराज चला रहा था। जो एक कम्पनी में अकाउंटेंट है। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि चेकिंग से बचने के लिए उसने नीली बत्ती लगा रखी थी। गाड़ी में हूटर भी लगा है।