Monday , November 28 2022

यूपी में’चुनाव से पहले होगी हिंदू लीडर की हत्या’:राकेश टिकैत

सिरसा: केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ कई महीनों से प्रदर्शन कर रहे किसान नेता राकेश टिकैत ने बीजेपी और केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. सिरसा में टिकैत ने कहा कि बीजेपी से खतरनाक कोई पार्टी नहीं है. इसके साथ ही उन्होंने विवादित बयान देते हुए कहा कि यूपी में चुनाव से पहले किसी बड़े हिंदू लीडर की हत्या हो सकती है.

हरियाणा के सिरसा में किसान सम्मेलन में हिस्सा लेना पहुंचे भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने बीजेपी सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है. टिकैत ने कहा कि यूपी चुनाव से पहले किसी बड़े हिंदू लीडर की हत्या होगी. उन्होंने कहा कि इनसे बचकर रहना और ये किसी बड़े हिंदू लीडर की हत्या करवाकर देश में हिंदू-मुसलमान करके चुनाव जीतना चाहते हैं.

किसान नेता टिकैत ने कहा कि बीजेपी से खतरनाक कोई दूसरी पार्टी नहीं है, जिन लोगों ने बीजेपी बनाई थी आज उन नेताओं को भी घर में कैद किया हुआ है. टिकैत ने कहा कि इस देश पर ‘सरकारी तालिबानियों’ का कब्जा हो चुका है. उन्होंने आरोप लगाया कि जिस SDM ने किसानों पर लाठियां चलवाईं उसका चाचा RSS में बड़े ओहदे पर है. इन सरकारी तालिबानियों का पहला कमांडर करनाल में मिल चुका है. अगर ये हमें खालिस्तानी कहेंगे तो हम इनको तालिबानी कहेंगे.

राकेश टिकैत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से कहा गया था कि 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी हो जाएगी. लेकिन ऐसा नहीं हुआ, और न ही फसलें दोगुने रेट पर बिकीं. इसके अलावा टिकैत ने सरकारी नीतियों पर सवाल उठाते हुए कहा कि देश की बड़ी कंपनियां कर्ज लेकर माफ करवा लेती हैं और फिर वही कंपनियां सरकारी संस्थान खरीद लेती हैं.

टिकैत ने कहा कि अगर कोई किसान कर्ज लेकर न भर पाए तो उसका घर, जमीन तक नीलाम कर दी जाती है. कर्ज दस लाख का है तो भी किसान की 50 लाख की जमीन बेची जाती है, ये किस तरह का कानून है. टिकैत ने कहा कि ये नीतियां जहां पर बनती हैं वहां पर कोई भी ट्रैक्टर या हल चलाने वाला नहीं है.