Saturday , December 30 2023

पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने पहली बार इस मामले में की टिप्पणी, कहा…

राजस्थान कांग्रेस में गहलोत और पायलट विवाद पर पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने पहली बार तल्ख टिप्पणी की है। वसुंधरा राजे ने कहा-  वसुंधरा राजे ने कहा  कांग्रेस सरकार के अब साल नहीं, बल्कि दिन बचे हैं। इस सरकार में 4 साल में आपसी लड़ाई के अलावा कुछ नहीं हुआ। सीएम व पूर्व डिप्टी सीएम में बोलचाल नहीं है। मंत्री अपनी ही सरकार के मंत्रियों व अफसरों से लड़ रहे हैं। जनता के आंसू पोंछने से इन्हें कोई मतलब नहीं है। कार्यकर्ताओं की मेहनत से हमें 2003 में 120 व 2013 में 163 सीटें मिली थी। हालांकि 2003 के बाद कांग्रेस ने भले ही दो बार सरकार बना ली हो, लेकिन जनता ने उन्हें कभी बहुमत नहीं दिया। पिछले चुनाव में तो हम सिर्फ आधा प्रतिशत मतों से ही पीछे रहे थे।

बीजेपी कार्यकर्ताओं को दी नसीहत राजे ने कहा कि हमारे कार्यकर्ता प्रेस व पोस्टरों में दिखने की बजाय जनता के बीच दिखने की होड़ करें तथा भाजपा सरकार की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाए। वहीं ज्यादा आत्मविश्वास में रहने की बजाय एकजुट व एकमुख होकर मेहनत करें। फिर देखिए हमारी जीत ऐसी होगी जो ‘न भूतो, न भविष्यति।’ कांग्रेस के कुराज से आक्रोशित जनता की आवाज को बुलंद करने के लिए पधारे राष्ट्रीय अध्यक्ष मा. जेपी नड्डा जी की उपस्थिति में कांग्रेस के जंगलराज के खिलाफ इस अभियान को सफल बनाने का प्रण लिया 

प्रेस और पोस्टरों से सियासत चमकाने वालों पर साधा निशाना  राजस्थान की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने कहा कि हमारे कार्यकर्ता प्रेस व पोस्टरों में दिखने की बजाय जनता के बीच दिखने की होड़ करें। भाजपा सरकार की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाए। वहीं ज्यादा आत्मविश्वास में रहने की बजाय एकजुट व एकमुख होकर मेहनत करें। राजनीतिक विश्लेषक पूर्व सीएम के बयान के अलग-अलग सियासी मायने निकाल रहे हैं। राजस्थान बीजेपी में पोस्टर से चेहरा चमकाने की सियासत करने वाले नेताओं पर वसुंधरा राजे ने इशारों में निशाना साधा है। राजस्थान बीजेपी में पोस्टर पाॅलिटिक्स  को लेकर वसुंधरा राजे का यह बयान काफी अहम माना जा रहा है। वसुंधरा राजे ने जनता के बीच सक्रिय होने के संकेत दिए है। बता दें, एक साल पहले बीजेपी भाजपा कार्यालय में लगे पोस्टर से उनके फोटो हटने के सवाल पर जवाब दिया था। वसुंधरा राजे ने कहा था- वे पोस्टरो में नहीं जनता के दिलों में रहना चाहती हैं।