Saturday , December 23 2023

जेवर में बन रहा नोएडा इंटरनेशनल ग्रीनफ़ील्ड एयरपोर्ट 25 महीने में बन जाएगा

जेवर में बन रहा नोएडा इंटरनेशनल ग्रीनफ़ील्ड एयरपोर्ट 25 महीने में बन जाएगा। इसके टर्मिनल बिल्डिंग और रनवे निर्माण का कार्य शुरू हो चुका है। मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र की अध्यक्षता में गुरुवार को नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (नॉयल) की 14वीं बोर्ड बैठक में यह बात ग्रेटर नोएडा के सीईओ अरुणवीर सिंह ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कही। बोर्ड बैठक में नोएडा इंटरनेशनल ग्रीनफ़ील्ड एयरपोर्ट ज़ेवर के विकास के संबंध में हुई प्रगति को बताया गया। 

उन्होंने बताया कि विकासकर्ता ज़ुरिक एयरपोर्ट की एसपीवी यमुना इंटरनेशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड ने परियोजना के लिए  डेवलपमेंट प्लान के अनुसार एयरपोर्ट के विकास के लिए  टाटा प्रोजेक्ट को जिम्मा दिया है। उसने काम शुरू कर दिया है। ज़ेवर एयरपोर्ट माह सितम्बर 2024 में पूर्ण होगा। ज़ेवर एयरपोर्ट के लिए पेयजल और मल्टी मॉडल कार्गो के सम्बन्ध में भी चर्चा की गई। बैठक में सीईओ ग्रेटर नोएडा सीईओ नोएडा और निदेशक नागरिक उड्डयन ने वीडियोकान्फ्रेन्सिंग से भाग लिया तथा सचिव औद्योगिक विकास अभिषेक प्रकाश और नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड नॉयल के नोडल ऑफ़िसर शैलेंद्र भाटिया बैठक में रहे।

बताया गया कि हवाई अड्डे के संचालन के लिए परीक्षण मार्च 2024 से शुरू होगा। बैठक में मौजूद अधिकारियों ने मंत्री को बताया कि फिलहाल हवाईअड्डे के रनवे और मुख्य भवन का निर्माण किया जा रहा है। औद्योगिक क्षेत्रों में सामूहिक आवास की अनुमति के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी। बता दें कि दिल्ली से लगभग 75 किलोमीटर दूर गौतम बौद्ध नगर के जेवर में 29,560 करोड़ रुपये की ग्रीनफील्ड हवाई अड्डा परियोजना के 2024 की अंतिम तिमाही में चालू होने की उम्मीद है। पहले चरण में, जो 2024 तक पूरा होने वाला है, संचालन एक रनवे और सालाना 1.20 करोड़ यात्रियों को संभालने की क्षमता के साथ शु