Monday , December 25 2023

शहीद रमाकांत यादव को सैन्य सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई

गश्त के दौरान सर्पदंश का हुए थे शिकार

संवाददाता सुल्तानपुर
विनोद यादव

गश्त के दौरान सर्पदंश का हुए थे शिकार

संवाददाता सुल्तानपुर।।भारत-पाकिस्तान बार्डर पर सर्पदंश का शिकार हुए सुलतानपुर के रमाकांत यादव को सैन्य सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। करीब पांच किलोमीटर सैन्य ट्रक के साथ हजारों लोग पैदल तिरंगा हाथों में लकर चलते रहें। इस दौरान भारत माता के जयकारे और इंकलाब जिंदाबाद के नारे भी गूंजे। लंभुआ के बसावनपुर में मंगलवार को शहीद रमाकांत यादव का पार्थिव शरीर पहुंचा। जहां पर ग्रामीणों ने उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी। शहीद का अंतिम संस्कार शहीद रथ यात्रा के माध्यम से सैन्य गाडियों व सिपाहियों के साथ निकाला गया। जिसमें जिले के सभी राजनैतिक दलों व समाजिक संगठनों के नेता भी पहुंच कर शहीद रमाकांत यादव को श्रद्धांजलि अर्पित की ,मौजूद एसडीएम ने शहीद के नाम पर द्वार बनवाने की घोषणा की है। दो दिन पहले भारत पाक सीमा से ड्यूटी के दौरान सर्पदंश सैनिक का निधन हुआ था। लंभुआ के बसावनपुर निवासी रमाकांत यादव (21) इन्फेंट्री बटालियन में तैनात थे।

रविवार को घने जंगल में गश्त के दौरान सांप के काटने से उनका निधन हो गया।मंगलवार सुबह सैनिक वाहन पर जब सैनिक का शव लंभुआ पहुंचा तो भारी भीड़ के साथ स्थानीय पुलिस भी मुस्तैद रही। सैनिक के अंतिम दर्शन को लोगों की भारी भीड़ उमड़ी रही। शहीद रमाकांत यादव की रथयात्रा में भाजपा विधायक सीताराम वर्मा,जिला अध्यक्ष डा. आर ए वर्मा, जितेंद्र वर्मा बाजीगर ,सपा जिला अध्यक्ष पृथ्वीपाल यादव ,एसडीएम महेंद्र श्रीवास्तव समेत तमाम समाजिक संगठनों के लोगो ने सैनिक के परिजन को ढ़ाढस बंधाने पहुचे।।