Wednesday , December 27 2023

देश में हर वर्ष 14 सितंबर को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है, जाने हिंदी में इसका अर्थ..

हर वर्ष 14 सितंबर को देश में हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है। यह दिन हिंदी भाषा के महत्व को पहचानने और युवा पीढ़ी को इसके अधिक उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करता है। दुनिया भर में लगभग 120 मिलियन लोग दूसरी भाषा के रूप में हिंदी बोलते हैं, और 258 मिलियन से अधिक लोग इसे अपनी मातृभाषा के रूप में बोलते हैं।

यूं तो हिन्‍दी कई देशों में बोली जाने वाली भाषा है, लेकिन हिन्‍दी के तमाम ऐसे शब्‍द हैं जिन्‍हें अंग्रेजी की मशहूर ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी में भी शामिल किया गया है। ये ऐसे शब्‍द हैं जिनका उपयोग आम बोलचाल की भाषा में लगातार किया जाता है। ये शब्‍द देखते ही देखते इतने प्रचलन में आ गए कि ऑक्‍सफोर्ड डिक्‍शनरी ने भी इन्‍हें मान्यता दी। इनमें संविधान, आत्‍मनिर्भर, दादागीरी, जुगाड़ आदि शब्‍द शामिल हैं।

इसके अलावा हम अपनी रोजमर्रा के जीवन में कई ऐसे अंग्रेजी के शब्द बोलते हैं, जिनका हिंदी मतलब शायद ही हमें पता हो। हिंदी दिवस के मौके पर हम आपके लिए ऐसे ही कुछ शब्द लेकर आए हैं, जिन्हें रोजाना इस्तेमाल करते हैं, लेकिन उन्हें हिंदी में क्या कहते हैं इसकी जानकारी कम ही होती है।

  • यूनिफॉर्म को हिंदी में क्या कहते हैं?गणवेश
  • मिनट को हिंदी में क्या कहते हैं?क्षण
  • पासवर्ड को हिंदी में क्या कहते हैं?कूटशब्द
  • लिफ्ट को हिंदी में क्या कहते हैं?उत्थापक, उच्चालित्र
  • सैटेलाइट को हिंदी में क्या कहते हैं?उपग्रह
  • सिग्नल को हिंदी में क्या कहते हैं?संकेत, इशारा
  • रेलवे स्टेशन को हिंदी में क्या कहते हैं?लौह पथ गामिनी विश्राम स्थल
  • ट्रेन को हिंदी में क्या कहते हैं?लौह पथ गामिनी
  • बैंक को हिंदी में क्या कहते हैं?अधिकोष
  • हेलमेट को हिंदी में क्या कहते हैं?शिरस्त्राण
  • सिगरेट को हिंदी में क्या कहते हैं?धूम्रपान दंडिका
  • इंटरव्यू को हिंदी में क्या कहते हैं?साक्षात्कार
  • कैलकुलेटर को हिंदी में क्या कहते हैं?गणक या परिकलक

अंग्रेजी में लिए गए हिंदी शब्द

अनेकों अंग्रेजी शब्द जैसे अवतार, बंगला, गुरु, जंगल, खाकी, कर्म, लूट, मंत्र, निर्वाण, पंच, पजामा, शर्बत, शैम्पू, ठग, आंधी और योग सहित अंग्रेजी शब्द हिंदी से लिए गए हैं। इसके अलावा वर्ष 2020 में ऑक्सफोर्ड डिक्‍शनरी ने lsquo;आत्मनिर्भरता’ को हिन्‍दी भाषा का शब्‍द चुना। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस इंडिया की ओर से कहा गया कि कोविड-19 से प्रभावित अर्थव्यवस्था से निपटने के लिए आत्मनिर्भर भारत को एक हथियार के रूप में देखा गया। पिछले गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पर आत्मनिर्भर भारत अभियान से संबंधित झांकी भी निकली थी। इससे पहले 2017 में आधार, 2018 में नारी शक्ति और 2019 में संविधान को ऑक्सफोर्ड ने हिंदी भाषा का शब्द चुना था।