Tuesday , December 26 2023

पाक की भावी राजनीति को लेकर लंदन में हुई हाईप्रोफाइल बैठक, केंद्र में रही इमरान खान की पार्टी पीटीआई

पाकिस्तान की भावी राजनीति कैसी होगी इसको लेकर लंदन में एक हाईप्रोफाइल बैठक हुई है। ये बैठक पाकिस्तान के पीएम शहबाज शरीफ और उनके बड़े भाई नवाज शरीफ के बीच हुई है। बता दें कि पीएम शहबाज शरीफ ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ के अंतिम संस्कार के लिए लंदन गए हुए हैं। यहां पर उन्होंने नवाज से पार्टी की भावी रणनीति पर चर्चा की है। इस चर्चा के केंद्र में इमरान खान की पार्टी पीटीआई रही।

This image has an empty alt attribute; its file name is %E0%A4%A6%E0%A5%87%E0%A4%B5%E0%A5%8D%E0%A4%B8%E0%A5%8D%E0%A4%A6%E0%A5%87-1024x576.jpg

हमजा को दोबारा पंजाब की कमान सौंपने पर रणनीति 

पाकिस्तान की मीडिया में ये बात भी सामने आई है कि दोनों नेताओं पंजाब में बनी गठबंधन सरकार को कैसे हटाकर वापस अपनी सरकार बनाई जाए और इसकी कमान दोबारा हमजा के हाथों में दी जाए। इस दौरान हुई बातचीत में देश में आम चुनावों को कराए जाने को लेकर भी काफी देर तक गहन चर्चा हुई है। पाकिस्‍तान की मीडिया के मुताबिक नवाज शरीफ ने शहबाज शरीफ को तय समय चुनाव कराने की सलाह दी है।

आर्मी चीफ के नाम पर न करें राजनीति

दोनों नेताओं के बीच हुई इस बैठक के बाद इसकी जानकारी देते हुए देश के रक्षा मंत्री ख्‍वाजा आसिफ ने बताया कि इसमें नए आर्मी चीफ को लेकर भी बात हुई। आसिफ ने कहा कि इस मसले पर पीटीआई जिस तरह से राजनीति कर रही है उसको वो नहीं करनी चाहिए। तीन घंटों तक चली इस बैठक में कई और मसलों पर भी चर्चा हुई। हालांकि इस बैठक में मरियम औरंगजेब शामिल नहीं थीं।

jagran

पीएम बनने के बाद दूसरी बार लंदन गए शहबाज 

बता दें कि शहबाज के पीएम बनने के बाद वो दूसरी बार लंदन गए हैं। उनके साथ उनका बेटा सुलेमान, ख्‍वाजा आसिफ, इशाक डार भी लंदन गए हैं। नए आर्मी चीफ के नाम के बाबत पूछे गए एक सवाल के जवाब में आसिफ ने कहा कि ये डिबेट का विषय नहीं है। इस तरह से सेना का मान गिरता है। उन्‍होंने ये भी कहा कि आर्मी चीफ की पहली नैतिकता अपने देश के लिए ही होती है फिर अपनी संस्‍था के लिए होती है। आर्मी चीफ का राजनीति से कोई लेना देना नहीं होता है। इसलिए उसकी पोजिशन और पर्सनेलिटी को विवादों में नहीं लाना चाहिए।

This image has an empty alt attribute; its file name is %E0%A4%A6%E0%A5%87%E0%A4%B5%E0%A5%8D%E0%A4%B8%E0%A5%8D%E0%A4%A6%E0%A5%87-1024x576.jpg

जल्‍द तय होगा नया आर्मी चीफ 

आसिफ ने ये जवाब इमरान खान के उस बयान के बाबत दिया था जिसमें उन्‍होंने कहा था कि सरकार अपनी पंसद का आर्मी चीफ बनाना चाहती है जो उनके भ्रष्‍टाचार पर पर्दा डाल कर रखने में उनकी मदद करे। आसिफ ने कहा कि नए आर्मी चीफ की नियुक्ति को लेकर प्रक्रिया शुरू हो चुकी है , जल्‍द ही इसको तय कर लिया जाएगा।