Monday , November 28 2022

किशोर को लगा दी गई कोविड वैक्सीन, जांच के आदेश

मुरैना. मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में एक नाबालिग लड़के को कोविड 19 वैक्सीन लगाने का मामला सामने आया है. जिले के अंबाह तहसील के बाग का पुरा इलाके में 16 वर्षीय एक लड़के को कथित तौर पर कोविड 19 रोधी टीका लगाया गया, जिसके बाद उसका स्वास्थ्य बिगड़ गया. मामला सामने आने पर रविवार को अधिकारियों ने इसकी जांच के आदेश दिए हैं. इस संबंध में एक वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा कि जांच से पता चलेगा कि नाबालिग किशोर को वैक्सीन कैसे लगाया गया?

मिली जानकारी के मुताबिक कमलेश कुशवाहा के बेटे पिल्लू को शनिवार को मुरैना जिला मुख्यालय से करीब 35 किलोमीटर दूर एक टीकाकरण केंद्र में यह टीका लगाया गया, जिसके बाद उसे चक्कर आने लगे और उसके मुंह से झाग आना शुरू हो गया. उन्होंने बताया कि अंबाह में डॉक्टरों ने उसे इलाज के लिए ग्वालियर रेफर कर दिया.

मुरैना जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ ए.डी शर्मा ने कहा कि नाबालिग लड़के को कोविड-19 रोधी टीका कैसे दिया गया? इसका पता लगाने के लिए जांच के आदेश दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि पिल्लू के आधार कार्ड की जांच की जाएगी. पिल्लू के आधार कार्ड के मुताबिक उसकी उम्र 16 साल है.

बता दें कि देश में अभी केवल 18 वर्ष से ऊपर के उम्र वाले लोगों को कोरोना की वैक्सीन दी जा रही है. अभी तक लगभग 62 करोड़ भारतीयों को वैक्सीन की एक या दो डोज लगाई जा चुकी है. इस लिहाज से देखें तो सवाल उठता है कि सोलह साल के एक लड़के को कोविड 19 की वैक्सीन कैसे लगा दी गई.