Wednesday , December 27 2023

27 नवंबर तक चलने वाले मेले का शाम 4 बजे उद्घाटन करेंगे केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल

27 नवंबर तक चलने वाले मेले में शुरू के पांच दिन बिजनेस डे के लिए निर्धारित हैं। 19 नवंबर से आम लोगों को व्यापार मेला देखने की इजाजत होगी। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल शाम 4 बजे मेले का उद्घाटन करेंगे।

दिल्ली में 41वां अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला सोमवार से प्रगति मैदान में शुरू हो रहा है। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल शाम चार बजे नए ऑडिटोरियम में मेले का विधिवत उद्घाटन करेंगे। व्यापार मेले के चलते आज मथुरा रोड, भैरों मार्ग, रिंग रोड, शेरशाह रोड और पुराना किला रोड पर ट्रैफिक जाम रहने की संभावना है। 27 नवंबर तक चलने वाले मेले में शुरू के पांच दिन बिजनेस डे यानी व्यापारियों के लिए निर्धारित हैं।19 नवंबर से आम लोगों को व्यापार मेला देखने की इजाजत होगी।

भारतीय व्यापार संवर्धन संगठन (आईटीपीओ) की तरफ से मेले के आयोजन के संबंध में सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। कोरोना से जुड़े लगभग सभी प्रतिबंध हटने के कारण इस बार व्यापार मेले में बड़ी संख्या में लोगों के आने की संभावना है, जिसको देखते हुए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

मेले के अंदर 14 दिनों के अंदर 10 लाख से अधिक लोगों के पहुंचने की संभावना है। आईटीपीओ के जनसंपर्क अधिकारी विवेकानंद विवेक का कहना है कि मेले में आने वाले किसी भी व्यक्ति को परेशानी न हो, इसका पूरा ख्याल रखा जाएगा।

प्रगति मैदान के पास लग सकता है जाम, दिल्ली पुलिस ने जारी की ट्रैफिक एडवाइजरी

प्रगति मैदान में सोमवार से शुरू होने वाला व्यापार मेला 27 नवंबर तक चलेगा। इसमें बड़ी संख्या में लोगों के पहुंचने का अनुमान है। इससे प्रगति मैदान के आसपास आगामी दो सप्ताह तक यातायात प्रभावित हो सकता है। ट्रैफिक पुलिस ने इसे लेकर व्यापक इंतजाम किए हैं। साथ ही लोगों से अपील की है कि वह 14 से 27 नवंबर तक जाम से बचने के लिए प्रगति मैदान के आसपास आने से बचें।

दिल्ली पुलिस ने भारत व्यापार मेले से पहले रविवार को ट्रैफिक एडवाइजरी जारी कर उन सड़कों के बारे में बताया जहां यातायात बाधित रहने की आशंका है। ट्रैफिक पुलिस ने कहा कि मथुरा रोड, भैरों मार्ग, रिंग रोड, शेरशाह रोड और पुराना किला रोड पर जाम लगने की आशंका है। मेले में 14 से 18 नवंबर तक व्यापारियों को ही प्रवेश मिलेगा। यह आम जनता के लिए 19 से 27 नवंबर तक खुला रहेगा।

ट्रैफिक पुलिस ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर कहा, ”द्वार संख्या पांच-ए और पांच-बी से आगंतुकों को प्रवेश नहीं मिलेगा। द्वार संख्या एक, चार, 10, 11 और क्राफ्ट म्यूजियम द्वार से प्रवेश मिलेगा। द्वार संख्या चार और 10 से मीडियाकर्मियों को प्रवेश मिलेगा। आईटीपीओ अधिकारियों को द्वार संख्या चार और 10 से प्रवेश मिलेगा। शाम छह बजे के बाद व्यापार मेले में प्रवेश नहीं मिलेगा”

पुलिस ने कहा कि प्रगति मैदान में टिकट की कोई बिक्री नहीं होगी। टिकट ऑनलाइन और चुनिंदा मेट्रो स्टेशन पर बेचे जाएंगे। 

व्यापार मेला में मिलेंगी ये सुविधाएं

● हर हॉल के सामने पीने के लिए स्वच्छ पानी और शौचालय की व्यवस्था

● अतिथियों को गेट 3 व चार से सीधे ऑडिटोरियम में प्रवेश की सुविधा

प्रवेश

● गेट संख्या 10 (निकट सुप्रीम कोर्ट मेट्रो स्टेशन)

● भैरव मार्ग गेट नंबर-4

सुरक्षा इंतजाम

● दिल्ली पुलिस के साथ सिविल डिफेंस वॉलंटियर की तैनाती

● मेटल डिटेक्टर स्कैनिंग के बाद ही प्रवेश की इजाजत

वाहन पार्किंग

● भैरो मार्ग में 1000 हजार वाहनों की पार्किंग सुविधा

● रिंग रोड और राजघाट के पास अतिरिक्त वाहन पार्किंग की व्यवस्था।

● एग्जीबिशन लगाने वाले लोगों के लिए प्रगति मैदान बेसमेंट में पार्किंग की सुविधा

● 50 हजार लोगों के पहले दिन मेले में आने की संभावना

टिकट बिक्री

● ऑनलाइन और दिल्ली मेट्रो के 67 स्टेशनों से सुबह नौ से शाम के चार बजे तक बिक्री

● 14 दिन में 10 लाख से अधिक के आने की संभावना

कितने देश शामिल

14 राष्ट्र, 29 राज्य व केंद्र शासित प्रदेश, 36 मंत्रालय व 36 पीएसयू की 2500 से अधिक स्टॉल