Wednesday , December 27 2023

गयाधाम में मेले के उद्घाटन से लेकर पिंडदान की व्यवस्था को लेकर जोरदार तैयारी 

गयाधाम में मेले के उद्घाटन से लेकर पिंडदान की व्यवस्था को लेकर जोरदार तैयारी है। सबसे ज्यादा विष्णुपद इलाके में तैयारी दिख रही है। दो साल बाद आयोजित हो रहे विश्वप्रसिद्ध मेले को लेकर गयापालों से लेकर मेला क्षेत्र के दुकानदारों में खासा उत्साह है। अनुमान है कि इस बार पितृपक्ष में करीब आठ लाख पिंडदानी आएंगे।

लाखों पिंडदानियों के आगमन को लेकर सबसे ज्यादा तैयारी जिला प्रशासन कर रहा है। जिला प्रशासन की टीम लगातार विष्णुपद इलाके का भ्रमण कर रही है। फल्गु के देवघाट, गजाधर, संगत घाट से लेकर सीताकुंड पर व्यवस्था का जायजा ले रही है। प्रेतशिला से लेकर बोधगया के धर्मारण्य पर तीर्थयात्रियों को पिंडदान करने की व्यवस्था में प्रशासन जुटा है। श्री विष्णुपद प्रबंधकारिणी समिति के सचिव व गयापाल गजाधर लाल पाठक ने बताया कि दो साल बाद लग रहे प्रसिद्ध पितृपक्ष मेले में आठ लाख से अधिक पिंडदानियों के आने का अनुमान है।

मेले के उद्घाटन समारोह के लिए बना भव्य पंडाल, पंडाल से पटे फल्गु के घाट विष्णुपद परिसर में नौ सितंबर की शाम पितृपक्ष मेले का उद्घाटन होगा। भव्य समारोह के बीच उद्घाटन की तैयारी चल रही है। उद्घाटन समारोह को लेकर विष्णुपद परिसर में भव्य वाटर प्रुफ बनकर तैयार है। पितृपक्ष से संबंधित बैनर पोस्टरों से पंडाल को चारों ओर से पाट दिया गया। बैनर-पोस्टरों पर पिंडदान के साथ तरह-तरह के सामाजिक स्लोगन लिखे हैं। मुख्य समारोह के लिए पंडाल के अंदर खूबसूरत मंच बनकर तैयार है। पिंडदान के लिए फल्गु के घाट इस बार शेड से पाट दिए गए हैं। फल्गु में पानी होने के कारण गजाधर घाट से लेकर संगत घाट तक वाटर प्रुफ पंडाल (शेड) बनकर तैयार हैं। घाटों के अलावा प्रमुख सरोवर वैतरणी व ब्रह्मसत में पंडाल बनाए गए हैं