Monday , November 28 2022

भारत पहली पारी में 78 पर ढेर, इंग्लैंडबिना विकेट खोए 120 रन

नई दिल्ली. जेम्स एंडरसन की तूफानी गेंदबाजी और उसके बाद रॉरी बर्न्स-हसीब हमीद की शानदार बल्लेबाजी की बदौलत इंग्लैंड ने लीड्स टेस्ट ( का पहला दिन अपने नाम किया. भारतीय टीम पहली पारी में सिर्फ 78 रनों पर सिमट गई और उसके बाद मेजबान टीम ने बिना विकेट खोए 120 रन बनाकर मैच में अपनी स्थिति मजबूत कर ली. हैडिंग्ले में भारत की ओर से सिर्फ सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (105 गेंद में 19 रन) और अजिंक्य रहाणे (54 गेंद में 18 रन) ही दोहरे अंक में पहुंचने में सफल रहे. टीम की ओर से इसके बाद सबसे बड़ा योगदान 16 रन के साथ अतिरिक्त रनों का रहा. इंग्लैंड ने पहली पारी के आधार पर 42 रन की बढ़त हासिल कर ली है. दिन का खेल खत्म होने पर हमीद 130 गेंद में 11 चौकों की मदद से 60 रन बनाकर खेल रहे थे जबकि बर्न्स ने 125 गेंद में 52 रन की पारी के दौरान पांच चौके और एक छक्का जड़ा है.

शानदार स्विंग का नजारा पेश करते हुए एंडरसन (6 रन पर 3 विकेट) ने मैच के पहले घंटे में ही सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल (00), चेतेश्वर पुजारा (01) और कप्तान विराट कोहली (07) को पैवेलियन भेज दिया. भारतीय बल्लेबाजों को ऑफ साइड से बाहर की गेंद से छेड़छाड़ का खामियाजा भुगतना पड़ा और पहले पांच बल्लेबाज विकेटकीपर जोस बटलर को कैच देकर आउट हुए. भारत ने अपने अंतिम छह विकेट सिर्फ 22 रन जोड़कर गंवाए जिससे लंच के बाद टीम 40.4 ओवर में ही सिमट गई. क्रेग ओवरटन (14 रन पर 3 विकेट), ऑली रोबिनसन (16 रन पर 3 विकेट) और सैम करेन (27 रन पर दो विकेट) ने एंडरसन के बनाए दबाव का फायदा उठाकर भारतीय पारी को समेटा.
इंग्लैंड के गेंदबाजों के दबदबे का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि भारतीय पारी में सिर्फ छह चौके लगे. पिछले नौ महीने में यह दूसरा मौका है जब भारतीय टीम पारी में 100 रन भी बनाने में नाकाम रही है. पिछले साल दिसंबर में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड में टीम दूसरी पारी में सिर्फ 36 रन पर सिमट गई थी जो टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में उसका न्यूनतम स्कोर था.
लॉर्ड्स में शानदार जीत के बाद भारत का पिछले 34 साल में पहले दिन की पिच पर यह न्यूनतम स्कोर है. भारतीय टीम पिछली बार पहले दिन की पिच पर 100 रन से कम के स्कोर पर 1987 में आउट हुई थी जब नयी दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर वेस्टइंडीज ने दिलीप वेंगसरकर की अगुआई वाली भारतीय टीम को सिर्फ 75 रन पर ढेर कर दिया था.

तेज गेंदबाजों के भारत को सस्ते में ढेर करने के बाद हमीद और बर्न्स की जोड़ी ने इंग्लैंड को अच्छी शुरुआत दिलाई. हमीद अच्छी लय में दिखे. साल 2016 के बाद पहली बार टेस्ट पारी का आगाज कर रहे हमीद ने इशांत शर्मा पर चौके से खाता खोला और फिर जसप्रीत बुमराह पर भी चौका जड़ा. बर्न्स ने मोहम्मद शमी पर चौका जड़ा जबकि हमीद ने मोहम्मद सिराज पर चौके के साथ 21वें ओवर में इंग्लैंड के रनों का अर्धशतक पूरा किया. बर्न्स ने सिराज पर छक्के और फिर एक रन के साथ स्कोर बराबर किया. हमीद ने बुमराह पर चौके के साथ 110 गेंद अर्धशतक पूरा किया. बर्न्स ने भी बुमराह पर चौके के साथ 123 गेंद में अर्धशतक पूरा किया. मौजूदासीरीज में इंग्लैंड की सलामी जोड़ी की यह पहली शतकीय साझेदारी है. इंग्लैंड पहले ही दिन के खेल के बाद जीत की राह पर दिखाई दे रहा है. भारतीय टीम को दूसरे दिन बेहतरीन गेंदबाजी करने के बाद दूसरी पारी में कमाल की बल्लेबाजी करनी होगी, तभी विराट एंड कंपनी ये मैच बचा पाएगी.