Saturday , October 8 2022

मथुरा में प्रकट भए नंदलाला

मथुरा. कृष्‍ण जन्माष्टमी को लेकर मथुरा-वृंदावन में सोमवार को आयोजनों की धूम रही. इस दौरान पूरा शहर रंग बिरंगी रौशनी से नहाया दिखा. शाम होते ही वृंदावन के मंदिरों की सजावट देखते ही बन रही थी. जन्माष्टमी के मौके पर कई धार्मिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया. पूरे देश में मनाए जाने वाले इस पर्व का मथुरा में खास महत्व है. माना जाता है कि कृष्‍ण भगवान ने यहीं जन्म लिया था और इसी के चलते यहां पर लोगों की आस्‍था देखते ही बनती है. जन्माष्टमी पर देश भर से लोग मथुरा वृंदावन पहुंचते हैं. ऐसा ही नजारा सोमवार को भी रहा शाम होते होते श्रद्धालुओं की भीड़ मंदिरों में जुटने लगी.

नगर के सभी मन्दिरों को सजाया गया है. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए लोग कृष्ण भगवान के दर्शन नजर आए. सुबह से ही आज लोगों ने व्रत रख अपने घर में तरह-तरह की मिठाइयां बनाईं. मंदिरों में बनाई गई झांकियों में कन्हैया के बाल रूप और उस दौरान घटी घटनाओं को अलग-अलग तरीके से पेश किया गया

इस दौरान रात 12 बजे से सभी मंदिरों में विशेष आयोजन किया गया. इस दौरान भगवान का भोग लोगों में बांटागया साथ ही विशेष आर्ती भी की . वहीं लोगों को दर्शनों में समस्या न हो इसके लिए अलग अलग लाइन का ‌सिस्टम किया गया है. साथ ही वहां मौजूद सुरक्षाकर्मी और वॉलेंटियर्स लगातार सोशल डिस्टेंसिंग व कोरोना नियमों को ध्यान में रखते हुए लोगों से दर्शनों की अपील कर रहे हैं.

श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए ट्रैफिक की भी विशेष व्यवस्‍था की गई है. बांके बिहारी मंदिर की तरफ जाने वाली सड़क पर गाड़ियों की आवाजाही रोक दी गई है. साथ ही यहां पर बैट्री चलित गाड़ियों को लगाया गया है, जिससे मंदिर जाने वाले लोगों को समस्या नहीं हो.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

3 × 3 =